coronavirus effect on india imorts: करॉना का दिखने लगा ट्रेड पर असर, भारत का 28% आयात चपेट में, निर्यात भी प्रभावित – china coronavirus outbreak may hit 28 percent indian imports

भारत इलेक्ट्रिकल मशीनरी, मकैनिकल अप्लायंस, ऑर्गेनिक केमिकल्स, प्लास्टिक और सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट के लिए बहुत हद तक चीन पर निर्भर है। भारत के आयात में इनका योगदान 28 फीसदी के करीब है और ग्लोबल सप्लाई चेन प्रभावित होने के कारण भारत के आयात का प्रभावित होना निश्चित है।

Published By Shashank Jha | टाइम्स ऑफ इंडिया | Updated:

NBT

रुपाली मुखर्जी, नई दिल्ली

करॉना वाइरस का असर गहराता चला जा रहा है। चीन में अब तक इससे 1400 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है तो दुनियाभर में 45 हजार के करीब लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं। तमाम कोशिशों के बावजूद डॉक्टर इसपर लगाम लगाने में अब तक असफल रहे हैं। करॉना की चपेट में ग्लोबल ट्रेड भी आ चुका है और सैकड़ों करोड़ों का नुकसान हो रहा है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत का 28 फीसदी आयात इससे प्रभावित हो सकता है।



40 फीसदी केमिकल्स का आयात चीन से
भारत इलेक्ट्रिकल मशीनरी, मकैनिकल अप्लायंस, ऑर्गेनिक केमिकल्स, प्लास्टिक और सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट के लिए बहुत हद तक चीन पर निर्भर है। भारत के आयात में इनका योगदान 28 फीसदी के करीब है और ग्लोबल सप्लाई चेन प्रभावित होने के कारण भारत के आयात का प्रभावित होना निश्चित है। भारत 40 फीसदी ऑर्गेनिक केमिकल्स चीन से आयात करता है और इलेक्ट्रिकल मशीनरी में भी चीन का इतना ही योगदान है। इन प्रॉडक्ट्स के आयात प्रभावित होने पर ऑटो, केमिकल और फार्मासूटिकल सेक्टर पर नकारात्मक असर दिखाई देंगे।

करॉना वायरस से अब तक चीन में 1300 से ज्यादा लोगों की मौतकरॉना वायरस से अब तक चीन में 1300 से ज्यादा लोगों की मौतचीन में करॉना वायरस का कहर जारी है। करॉना वायरस की चपेट में आने के कारण हजारों लोगों की जान जा चुकी हैv एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक करॉना वायरस के कारण केवल एक दिन में 242 लोगों की जान जा चुकी है। करॉना वायरस से अब तक कम से कम 45,174 लोग प्रभावित हुए हैं। बताया जा रहा है कि चीन में अब तक 1,300 से ज्यादा लोगों ने करॉना की वजह से अपनी जान गंवा दी है।

भारत के निर्यात पर क्या होगा असर?

करॉना का भारत के निर्यात पर बहुत ज्यादा असर नहीं होने वाला है। भारत कुल निर्यात का केवल 5 फीसदी चीन को निर्यात करता है। हालांकि ऑर्गेनिक केमिकल और कॉटन के निर्यात पर असर दिखाई देंगे।

करॉना वायरस: पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन को की मदद की पेशकशकरॉना वायरस: पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन को की मदद की पेशकशप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को पत्र लिख कर करॉना वायरस महामारी पर भारत की तरफ से मदद की पेशकश की है। अब तक चीन में करॉना वायरस से 800 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। प्रधानमंत्री ने चीन के राष्ट्रपति और वहां की जनता के प्रति एकजुटता भी व्यक्त करते हुए मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। इसके साथ ही भारतीय नागरिकों को वापस लाने में चीन से मिली मदद के प्रति आभार भी व्यक्त किया है।

भारत चीन से कितना आयात करता है?

साल 2018 में भारत का कुल आयात 507 अरब डॉलर का रहा था। इसमें चीन का योगदान 73 अरब डॉलर, करीब 14 फीसदी था। वर्तमान हालात को देखकर कहा जा रहा है कि चीन में फैक्ट्री और इंडस्ट्रियल हब 17 फरवरी के बाद भी बंद रहेंगे। जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाते हैं, तब तक चीन में प्रॉडक्शन काफी कम रहेगा और इसका नुकसान भी विश्व के तमाम देशों को उठाना पड़ेगा, क्योंकि चीन उनके लिए सबसे बड़ा निर्यातक है।

Web Title china coronavirus outbreak may hit 28 percent indian imports(News in Hindi from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें


Source link

Leave a Reply